Monday, 8 February 2016

कामों से असन्तुष्ट संतो के अखाड़े कर सकते है सिंहस्थ का बहिष्कार


डॉ. अरूण जैन
संतों का कहना है कि सरकार सिहंस्थ के आयोजन में तीन हजार करोड़ रुपए खर्च कर रही है, जिसका सदुपयोग नहीं हुआ है. इसकी जगह इतने बड़ी राशि का थोड़ा सा भी हिस्सा अखाड़ों पर खर्च कर दिया जाता तो उनका कायाकल्प हो जाता. अखाड़ों का कहना है कि अगर यही हाल रहा तो उनके जरिए मेले का बहिष्कार करने का निर्णय भी लिया जा सकता है ।
अखाड़ों ने कहा -कर सकते हैं मेले का बहिष्कार उज्जैन सिंहस्थ को तीन महीने से भी कम समय बचा है लेकिन उसकी तैयारियां अभी भी पूरी नहीं हो सकी है. इससे नाराज संत -अखाड़ों ने अब प्रशासन पर सवाल खड़े करना शुरू कर दिया है. गुरु दत्तात्रेय अखाड़े के प्रमुख पीर महंत परमानंद पुरीजी महाराज ने नवनियुक्त सिंहस्थ केंद्रीय समिति के अध्यक्ष माखनसिंह चौहान से सिंहस्थ की तैयारी को लेकर बड़े ही तल्ख लहजे में सवाल किए. उन्होंने चौहान से सीधे पूछा कि जो काम पिछले तीन साल से सरकार पूरा नहीं कर पाई है वहीं काम महज पांच महीने में भला वो कैसे पूरा कर पाएंगे. इस पर चौहान ने संत से उनका आशीर्वाद मांग काम अच्छे से और समय पर पूरा करने की बात कही. सभी अखाड़े हैं नाराज सिहंस्थ-2016 की तैयारी को लेकर सभी अखाड़ों में भारी असंतोष है.अभी तक की व्यवस्था से कोई भी अखाड़ा संतुष्ट नजर नहीं आ रहा है. 

No comments:

Post a comment