Tuesday, 16 April 2019

फिल्म देखने से पहले पढ़ें कैसी है द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर

डाॅ. अरूण जैन

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की बायोपिक द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टरकी जबसे अनाउंसमेंट हुई है तबसे ही फिल्म काफी सुर्खियों में है। फिल्म संजय बारू की किताब पर आधारित है और शुक्रवार को फिल्म रिलीज हो गई है। फिल्म की कहानी फिल्म की कहानी 2004 में लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के नेतृत्व में यूपीए को मिली जीत से शुरू होती है जिसके बाद मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री बनते हैं। इसके बाद जर्नलिस्ट संजय बारू की एंट्री होती है और वो मनमोहन सिह के मीडिया एडवाइजर बन जाते हैं। जिसके बाद 2जी, कोयला घोटाला, 2009 के चुनाव में राहुल गांधी को पार्टी का चेहरा बनाना जैसे कई मुद्दे आते हैं। नहीं है बायोपिक बता दें कि ये फिल्म बायोपिक नहीं है। इसमें किताब में दर्ज तमाम छोटी-बड़ी राजनीतिक घटनाओं का सिनेमाई रूपान्तरण है। यहां कहानी के लिए रियल विजुअल्स का दिल खोलकर इस्तेमाल किया गया है। इसमें दिलचस्प बात ये है कि अक्षय खन्ना नरेटर के रूप में समझाते रहते हैं जिससे घटनाएं अच्छे से समझ आती है। शानदार अभिनय अनुपम खेर, अक्षय खन्ना, विपिन शर्मा, सुजैन बर्नर्ट, अर्जुन माथुर और अहाना कुमार ने अच्छा काम किया है। अनुपम खेर को अगर आप देखेंगे तो ऐसा लगेगा कि मनमोहन सिंह ही सामने खड़े हैं। बहुत ही अच्छी तरह से उन्होंने मनमोहन सिंह को कॉपी किया है।

No comments:

Post a comment