Wednesday, 23 May 2018

ग्लैमर और एक्शन की खुराक देती है जेंटलमैन

डाॅ. अरूण जैन
राज और डीके निर्देशित 'ए जेंटलमैन में एक्शन, ग्लैमर और डबल रोल जैसे कई बॉलीवुड मसाले हैं। अगर कहानी, एक्टिंग और सस्पेंस जैसे कुछ और तत्व भी होते, तो यह इस निर्देशक जोड़ी की कुछ पिछली सफल फिल्मों से टक्कर ले सकती थी। समाज में तेजी से आ रहे बदलावों में से एक बदलाव यह भी है कि अब 'सुंदर-सुशील का विशेषण शादी के इच्छुक लड़कों के लिए किसी हार्वड डिग्री से कम नहीं है। हर लड़की को ऐसा लड़का चाहिए जिसमें यह योग्यता हो। हो सकता है कि कुछ दिन बाद यह विशेषण 'वधू चाहिए के कॉलम से निकल कर 'वर चाहिए कॉलम में नजर भी आने लगे। बहरहाल, राज और डीके की नजर इस दस्तक देते बदलाव पर पहले ही पड़ गई या शायद उन्होंने 'की एण्ड का देखी और गढ़ दिया एक ऐसा ही मिलता-जुलता किरदार। साथ ही इसमें लगाया एक्शन और ग्लैमर का तड़का। तो क्या यह जेंटलमैन सबको रास आएगा? चलिए जानते हैं। राज निदीमोरू और कृष्णा डीके ने अपनी फिल्म 'शोर इन दि सिटी के साथ साल 2011 में खूब शोर मचाया था। इसके बाद साल 2013 में आई 'गो गोआ गॉन को भी युवाओं और टीनेजर्स ने काफी पसंद किया। हालांकि साल '2014Ó में रिलीज उनकी फिल्म 'हैप्पी एंडिंग को उतनी अच्छी एंडिंग नहीं मिल सकी। और अब यह निर्देशक जोड़ी 'ए जेंटलमैन फिल्म लेकर आई है, जिसके डबल रोल वाले पहलू को इसके प्रमोशंस में काफी रेखांकित किया गया। पर इस डबल रोल से जुड़ा एक रहस्य है, जिसे हम खोलेंगे तो नहीं, पर यह जरूर कहेंगे कि यह रहस्य अगर इंटरवेल से पहले ही खुल जाने की जगह अंत में खुलता, तो यह एक जबर्दस्त सस्पेंस साबित हो सकता था। खैर, अब बात कहानी की। मियामी की खूबसूरत वादियों में एक सुंदर सुशील लड़का गौरव (सिद्धार्थ मल्होत्रा) एक घर खरीदता है। भविष्य में परिवार बढऩे की संभावनाओं को देखते हुए एक टेम्पो ट्रेवलर खरीदता है और अपने ऑफिस में काम करने वाली लड़की काव्या (जैक्लीन फर्नान्डीज) से शादी करने का सपना देखता है। पर काव्या को चाहिए एक ऐसा लड़का जो सुंदर, सुशील होने के अलावा थोड़ा रिस्की भी हो। इस प्यार कहानी के साथ चल रही होती है ऋषि (सिद्धार्थ मल्होत्रा) की कहानी, जो काफी रिस्की है। यह फिल्म एक एक्शन थ्रिलर है, यह देखते हुए इससे ज्यादा बताना नाइंसाफी होगी। फिल्म 'मैं हूं ना और 'धड़कन जैसी फिल्मों के बाद सुनील शेट्टी एक बार फिर इस फिल्म में विलेन के रूप में नजर आए हैं और सिद्धार्थ को कड़ी टक्कर दे गए हैं। सिद्धार्थ फिल्म के कई दृश्यों में बिना शर्ट के नजर आए हैं और उनकी डिंपल वाली मुस्कुराहट भी काफी दिलकश है। अगर वह एक्टिंग और फिल्मों के चयन पर जरा और ध्यान दें तो अपने साथ करियर शुरू करने वाले वरुण धवन के करीब पहुंच सकते हैं। फिल्म रुस्तम में इलियाना डिक्रूज के बाद अब इस फिल्म में जैक्लीन फर्नान्डीज ने शॉर्ट पिक्सी हेयरस्टाइल अपनाया है जो उन पर काफी जंचा भी है। लगता है छोटे बेतरतीब बालों का यह अंदाज आने वाले दिनों में फैशन की दुनिया में छाने वाला है। उनका पोल डांस और बिकिनी वाले दृश्य भी प्रभावी हैं। उन्हें बस अपनी एक्टिंग और हिंदी पर काम करना चाहिए। 10 से ज्यादा हिंदी फिल्मों में काम कर चुकी यह अभिनेत्री जब अंग्रेजी लहजे में हिंदी बोलती है, तो अटपटा लगता है। हां, उनकी और सिद्धार्थ की जोड़ी काफी ग्लैमरस लगी है। जैक्लीन की कुछ फिल्में हिट जरूर हो गई हैं, पर अगर उनके काम पर नजर डाली जाए तो वह अब तक अमूमन एक जैसे ही किरदार निभाती आई हैं। फिर चाहे वह हाउसफुल 3 हो, किक हो या ए जेंटलमैन हो। विशुद्ध व्यावसायिक फिल्मों के साथ ही उन्हें कुछ अच्छी फिल्में भी करनी चाहिए। फिल्मों के गीत औसत ही हैं, पर मियामी की खूबसूरत लोकेशंस में उनका फिल्मांकन काफी अच्छा बन पड़ा है। दर्शन कुमार फिल्म 'एनएच 10
के बाद एक बार फिर नकारात्मक भूमिका में नजर आए हैं। उनमें गजब का आत्मविश्वास नजर आता है। गौरव के दोस्त के रूप में हुसैन दलाल की कॉमिक टाइमिंग काम कर गई है और वह फिल्म में कई बार आपको हंसाते हैं। एक्शन दृश्यों का फिल्मांकन प्रभावी है।

No comments:

Post a comment