Wednesday, 23 May 2018

तो इसलिए आलिया ने बाहुबली को दिखाया था ठेंगा

अरूण जैन
आलिया भट्ट की पिछली फिल्म बद्रीनाथ की दुल्हनिया बॉक्स ऑफिस पर साफल साबित हुई। फिलहाल आलिया अपनी फिल्मों और किरदारों के साथ नए-नए प्रयोग करना चाहती हैं। जैसे उन्होंने उड़ता पंजाब में किया और उनके अभिनय की जमकर सराहना हुई। आलिया अपने कॅरियर के इस दौर में ऐसी किसी फिल्म में काम नहीं करना चाहतीं, जहां उनकी भूमिका हीरो से छोटी हो। तभी तो उन्होंने प्रभास स्टारर फिल्म साहो का हिस्सा बनने से साफ मना कर दिया था। एक ओर साउथ के स्टार प्रभास के साथ काम करने के लिए अभिनेत्रियां तरस रही हैं। वहीं, जब आलिया भट्ट को बाहुबली के साथ काम करने का मौका मिला तो उन्होंने फौरन उनके साथ स्क्रीन शेयर करने से मना कर दिया। यह बात शायद बहुत कम लोग जानते होंगे कि प्रभास की फिल्म 'साहोÓ का ऑफर श्रद्धा कपूर से पहले आलिया भट्ट को मिला था और प्रभास खुद आलिया के साथ काम करने के लिए बेहद उत्साहित थे लेकिन ऐसा हो नहीं पाया। यूं तो आलिया को भी प्रभास के साथ काम करने में कोई दिक्कत नहीं थी लेकिन उन्होंने यह कहकर फिल्म का हिस्सा बनने से मना कर दिया कि उनका रोल बहुत छोटा है। दअरसल, आलिया अपने कॅरियर के एक बहुत अच्छे दौर से गुजर रही हैं। 'शानदारÓ को छोड़ उनकी सभी फिल्में बॉक्स ऑफिस पर सफल रही हैं। फिल्म 'डियर जिंदगीÓ में भी उनके काम को काफी सराहना मिली थी। यही वजह है कि आलिया ऐसी किसी फिल्म में काम नहीं करना चाहतीं, जहां उनसे ज्यादा तवज्जो किसी और कलाकार को मिले। वह ऐसे प्रोजेक्ट से जुडऩा चाहती हैं, जिसके जरिए उन्हें अपनी परफॉर्मेंस दिखाने का पूरा मौका मिले। आलिया जानती थीं कि बाहुबली के बाद फैंस एक बार फिर प्रभास को पर्दे पर देखने के लिए बेकरार हैं। अगर वह उनके साथ काम करतीं तो फिल्म की सारी लाइमलाइट प्रभास ही बटोर लेते। लिहाजा आलिया ने फिल्म से पीछे हटना ही मुनासिब समझा और जब उनके साथ बात नहीं बन पाई तो यह फिल्म श्रद्धा कपूर की झोली में जा गिरी। वैसे 'साहोÓ की पहली पसंद तो अनुष्का शेट्टी थीं लेकिन बाद में किसी वजह से उन्हें यह फिल्म छोडऩी पड़ी। लाइमलाइट का लालच आलिया अपना एक-एक कदम फूंक-फूंककर आगे बढ़ा रही हैं। वह जोखिम भरी और चुनौतीपूर्ण भूमिका निभाने के लिए तैयार हैं लेकिन उन्हें किसी भी फिल्म में नाममात्र की भूमिका नहीं निभानी। कुछ दिनों पहले एक इंटरव्यू में खुद आलिया ने कहा था कि वह चाहती हैं कि उनका किरदार दर्शकों की यादों में बस जाए। वह ऐसा कोई किरदार नहीं निभाना चाहतीं, जिसमें वह एक ग्लैम डॉल बनकर रह जाएं। उनके लिए फिल्म की कहानी तो मायने रखती ही है लेकिन इससे भी ज्यादा अहमियत वह अपनी भूमिका को देती हैं। तभी तो जब उनसे हॉलीवुड की ओर रुख करने के लिए पूछा गया तो उन्होंने कहा कि फिलहाल उनके पास ऐसा कोई ऑफर नहीं आया है, जिसे करने के लिए वह फौरन हामी भर दें। अगर भविष्य में किसी विदेशी फिल्म में उन्हें दमदार भूमिका निभाने का मौका मिला तो बेशक वह उस पर विचार करेंगी। वैसे भी यह तो आलिया खुद ही स्वीकारती हैं कि उन्हें रियल लाइफ में भी लाइमलाइट में रहना पसंद है। वह चाहती हैं कि लोग रोजाना उनकी चर्चा करें। आलिया हमेशा मीडिया में बने रहना चाहती हैं और रील लाइफ में भी उनका मकसद यही है कि उन्हें ज्यादा से ज्यादा स्क्रीन टाइमिंग मिले ताकि वह दर्शकों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित कर सकें।

No comments:

Post a comment